आखिर पता चल ही गया,ऐसे बच सकते हैं Kidney Transplant से

तो ऐसे बच सकते हैं Kidney Transplant से

Kidney Transplant
Kidney Transplant

लोगों को अक्सर डॉक्टर्स डायलिसिस या किडनी से सम्बंधित कोई गंभीर बीमारी हो जाने पर किडनी ट्रांसप्लांट करवाने की सलाह देते है

देश में हर साल लाखों लोग किडनी की बीमारियों की वजह से जान गंवा बैठते हैं, लेकिन इसका सबसे खतरनाक पहलू यह है कि किडनी की बीमारी का पता तब चलता है, जब किडनियां 60 से 65 प्रतिशत तक डैमेज हो चुकी होती हैं, इसलिए सावधानी ही इससे बचने का सबसे बेहतर तरीका है।

इसे भी पढ़ेंकैंसर से रहना है दूर तो रोजाना करे इसका सेवन

जिन लोगों को डॉक्टर्स ने किडनी ट्रांसप्लांट की सलाह दी है उन्हें पहले यह दावा अपना कर देखना चाहिए . इस दावा के इस्तेमाल से लगभग 90% लोगों को आराम मिला है।

किडनी फ़ैल होने का मुख्य कारण ब्लड प्रेशर है।

इसे भी पढ़ें-सिर्फ 20 दिनों में अपने पेट की चर्बी करें खत्म

लक्षण: हाथ-पैरों और आंखों के नीचे सूजन, सांस फूलना, भूख न लगना और हाजमा ठीक न रहना, खून की कमी से शरीर पीला पड़ना, कमजोरी, थकान, बार-बार पेशाब आना, उल्टी व जी मिचलाना, पैरों की पिंडलियों में खिंचाव होना, शरीर में खुजली होना आदि लक्षण यह बताते हैं कि किडनियां ठीक से काम नहीं कर रही हैं।

kidney transplant
kidney transplant

Kidney Transplant  से बचने का देसी तरीका –किडनी ट्रांसप्लांट करवाना बहुत मंहगा है. और यहाँ तक  कुछ ग तो इसे अफ्फोर्ड भी नहीं कर पाते जिसके परिणामस्वरूप उनकी मौत हो जाती है और जो ट्रांसप्लांट करवा भी लेते है तो उनका जीवन पहले जेसा  रह पाता. वे पहले जेसी सुख सुविधाए नही इस्तेमाल कर पाते।

इसे भी पढ़ें-क्रीम और शैम्पू से औरतों में बाँझपन का खतरा

अखिल भारतीय शिक्षकेतर कर्मचारी संघ के महासचिव डॉक्टर आर बी सिंह के अनुसार -किडनी ट्रांसप्लांट से बचने का एकमात्र देसी इलाज काढ़ा है जिसका सेवन 15 दिनों तक करने से आपको आपकी किडनी में फर्क महसूस होने लगेगा तथा धीरे धीरे खुराक कम करते रहने से आपको किडनी ट्रांसप्लांट की आवश्यकता नही पड़ेगीइस काढ़े का उप्योह्ग करके लगभग 90% लोगों को रहत मिली है।

काढ़ा बनाने का तरीका २५० gm गोखरू कांटा (जो आपको किसी जेनरल स्टोर से प्राप्त हो जायेगा ) लेकर 4 लीटर पानी में उबालिए . जब पानी 1 लीटर रह जाये तो इसे छानकर बोतल में रख लीजिये और कांटा फ़ेंक दीजिये।

Kidney Transplant
Kidney Transplant

इन्हें भी पढ़ें-ब्रेन हैमरेज , हार्ट अटैक का खतरा कम करने के उपाय

काढ़ा प्रयोग करने की विधि – सुबह शाम हल्का गर्म करके गुनगुने पानी के साथ लगभग १०० ग्राम के करीब खाली पेट इस्तेमाल करने से बहुत फायदा होता है शाम को खाली पेट का मतलब दोपहर के भोजन के लगभग 5-6 घंटे बाद. काढ़ा पीने के 1 घंटे बाद ही कुछ खायेइस दौरान अपनी बाकि दवाए प्रयोग करते रहें। 15 दिन के अंदर यदि आपको फर्क महसूस होता है तो डॉक्टर की सलाह से दावा लेना बंद कर दें।

Kidney Transplant
Kidney Transplant

जैसे जैसे आपके अन्दर सुधर होता जाये आप काढ़े की मात्र धीरे धीरे कम कर सकते है या फिर दिन में सिर्फ 1 बार खली पेट प्रयोग करे,मेरी जानकारी के अनुसार मेरे बताये गए लोगों में लगभग 90% से अधिक लोगों को इससे फायदा हुआ और उन्हें किडनी ट्रांसप्लांट करवाने का विचार छोड़ना  पड़ा । मुझे पूरा विस्वास है की आप किडनी ट्रांसप्लांट करवाने का विचार त्याग देंगे।

Kidney Transplant ही है स्थायी इलाज: किडनी खराब होने का स्थायी इलाज ट्रांसप्लांट ही है। ट्रांसप्लांट के प्रोसेस के दौरान मरीज और डोनर के ब्लड ग्रुप से लेकर टिश्यू मैचिंग तक कई टेस्ट करके यह तय किया जाता है कि डोनर मरीज के लिए सही है या नहीं। हालांकि ट्रांसप्लांट के बाद डोनर तो कुछ ही दिनों में सामान्य जीवन जीने लगता है, लेकिन मरीज को काफी सावधानी बरतनी पड़ती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *